भगवान ने बनाया?




प्रस्तुति - कृति शरण /सृष्टि शरण।

भगवान ने पहले
गधे को बनाया
और कहा तुम गधे होगे |
तुम सुबह से शाम तक
बिना थके काम करोगे |
तुम घास खाओगे और
तुम्हारे पास अक्ल नहीं होगी
और तुम 50 साल जियोगे |”
गधा बोला –
मै 50 साल नहीं जीना चाहता |
ये बहुत ज्यादा है |
आप मुझे 20 साल ही दें |
भगवान ने कहा तथास्तु
———————————
भगवान ने फिर कुत्ते को बनाया –
और कहा तुम कुत्ते होगे|
तुम घर की रखवाली करोगे |
तुम आदमी के दोस्त होगे |
तुम वह खाओगे
जो आदमी तुम्हे देगा |
तुम 30 वर्ष जियोगे|”
कुत्ता बोला –
मै 30 साल नहीं जीना चाहता |
ये बहुत ज्यादा है |
आप मुझे 15 साल ही दें |
भगवान ने कहा तथास्तु...
———————————
फिर भगवान ने बन्दर को बनाया –
और कहा तुम बन्दर होगे |
तुम एक डाली से दूसरी में
उछलते कूदते रहोगे |
तुम 20 वर्ष जियोगे |”
तो बन्दर बोला – मै
20 साल नहीं जीना चाहता |
ये बहुत ज्यादा है |
आप मुझे 10 साल ही दें |
भगवान ने कहा तथास्तु……
आखिर में भगवान ने
आदमी को बनाया –
और कहा तुम आदमी होगे |
तुम धरती के सबसे अनोखे जीव होगे|
तुम अपनी अकलमंदी से
❤सभी जानवरों के मास्टर होगे|
❤तुम दुनिया पे राज करोगे |
❤तुम 20 साल जियोगे |”
💙तो आदमी ने जवाब दिया –
💙20 साल तो बहुत कम है|
💙आप मुझे 30 साल दे
💙जो गधे ने मना कर दिए,
💙15 साल कुत्ते को नहीं चाहिए थे,
💗10 साल बन्दर ने मना कर दिए,
💗वह भी दे दें|
💗भगवान ने कहा तथास्तु…
💗और तीनो जानवरों के साल
💗(30 साल, 15 साल, 10 साल),
💜 जो की जानवरों ने माना कर दिए थे,
💜आदमी को मिल गए |
💜तब से आज तक आदमी
💜20 साल इन्सान की तरह जीता है|
💜शादी करता है और
💛30 साल गधो की तरह बिताता है|
💛काम करता है और
💛अपने ऊपर सारा भोझ उठाता है |
💛और फिर उसके
💛बच्चे जब बड़े हो जाते है तो
💖वह 15 साल कुत्ते की तरह
💖घर की रखवाली करता है,
💖बच्चे जो उसे दे देते है
💖वह खा लेता है |
💖उसके बाद जब वह
💚रिटायर हो जाता है| तो
💚वह 10 साल बन्दर की तरह
💚जीवन बिताता है
💚एक घर से दूसरे घर या
💚अपने एक बेटे या बेटी के घर से
❤दूसरे बेटा या बेटी के घर पर
❤अता- जाता रहता है और
❤नए – 2 तरीके अपनाता है
❤अपने पोतो को खुश करने मे
❤और कहानी सुनाने में !!!!!!

👍 ये ही जीवन की सच्चाई है...

टिप्पणियां

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

दो सौ पौराणिक कथाएं

कौन है हिन्दी की पहली कहानी ?

हातिमताई के किस्से कहानी