रविवार, 21 अगस्त 2016

कवि प्रधानमंत्री नरेन्द्र मोदी पर एक कविता





रिद्धि अस्थाना



नाम है नरेंद्र दामोदर दास मोदी ,
हैं वह देश के मंत्री प्रधान,
जो चले हैं बढाने दुनिया में
भारत की आन, बान और शान|
आये जबसे मोदी सत्ता में,
दौड गई नई उम्मीद की लहर.
एक अकेले बन्दे ने
बरपा दिया सभी पाटिॅयों पर कहर|
आते ही सरकार में
शुरू कर दी नई योजनायें,
दूर होने लगी जिससे गांवों में
बिजली पानी की समस्यायें|
विदेशों से आकर यहाँ नेताआें नें
मोदी से मिलाया हाथ,
तो जाकर वहाँ मोदी ने भी
खूब selfie खींची सबके साथ|
गये जिस देश भी मोदी
कुछ न कुछ लेकर ही आऐ,
जिससे वह 125 करोड़ देशवासियों के
कल को बेहतर बनायें|
शुरु किया FDI, Make In India
और Skill India Development,
भारत को एक दिन विकसित बनायेगा
मोदी का यही Management.
मोदी ने दुनिया में
भारत का नाम बहुत कराया,
खुश होकर शेख ने UAE में
मंदिर का भरोसा दिलाया|
-रिद्धि अस्थाना

1 टिप्पणी:

प्रेम जनमेजय होने का मतलब /

  मैं अगस्त 1978 की एक सुबह पांच बजे दिल्ली के अंतर्राज्यीय बस अड्डे पर उतरा था, किसी परम अज्ञानी की तरह, राजधानी में पहली बार,वह भी एकदम अक...