रविवार, 20 अगस्त 2023

🙏 एक रेड लाइट एरिया / तरुण शेखर

 एक रेड लाईट एरिया मे क्या खूब बात लिखी पाई गई / तरुण शेखर 

:


"यहाँ सिर्फ जिस्म बिकता है,

ईमान खरीदना हो" तो अगले चौक पर

*पुलिस स्टेशन" हैं 

.

आप चाहते हैं, कि आपकी तानाशाही चले 

औरकोई आपका विरोध न करे 

तो आप भारत में

*न्यायाधीश* बन जाइये !

.

आप चाहते हैं,

कि आप एक से बढ़कर एक झूठ बोलें

अदालत में, लेकिन कोई आपको सजा न दे,

तो आप *वकील* बन जाइये !

.

कोई महिला चाहती हो

कि वो खूब देह व्यापार करे

लेकिन कोई उनको वेश्या न बोले,

तो बॉलीवुड में *हिरोइन* बन जाये !

.

आप चाहते हैं,

कि आप खूब लूट मार करें,

लेकिन कोई आपको डाकू न बोले,

तो आप भारत में *राजनेता* बन जाइये !

.

आप चाहते हैं,

कि आप दुनिया के हर सुख मांस,मदिरा,स्त्री

इत्यादि का आनंद लें, 

लेकिन कोई आपको भोगी न कहे,

तो किसी भी धर्म के *धर्मगुरु* बन जाओ !

.

आप चाहते हैं,

कि आप किसी को भी बदनाम कर दें,

लेकिन आप पर कोई मुकदमा न हो,

तो मीडिया में *रिपोर्टर* बन जाइये !

.

यकीन मानिये कोई आप का बाल भी बाँका

नहीं कर पाएगा. भारत में, हर *"गंदे"* काम के

लिए एक *वैधानिक पद* उपलब्ध है, 

इसीलिए *मेरा भारत महान*  है..!!

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

प्रवीण परिमल की काव्य कृति तुममें साकार होता मै का दिल्ली में लोकार्पण

 कविता के द्वार पर एक दस्तक : राम दरश मिश्र  38 साल पहले विराट विशाल और भव्य आयोज़न   तुममें साकार होता मैं 💕/ प्रवीण परिमल   --------------...