ना पीने की कसम

 🥃  45 दिन ड्राई क्या हुए  🥃   🥃 


प्रस्तुति -  रास बिहारी + रामेश्वर दयाल + अशोक सिंह +.............


दो दोस्तों ने कसम खाई कि, *अब कभी शराब 🥃 🚫नही पियेंगे।*

 🥃  

इधर कसम खाई उधर शराब बिकनी शुरू।

🙄🤭


अब दोनों पड़े असमंजस में, करें तो क्या करें??


एक ने सलाह दी कि 

 🥃  

*"पीने की कसम खाई है वाइन शॉप पर जाने की तो नहीं.."*


आखिर दोनों वाईन शॉप पर गए, बोतल ली, घर पर लाकर बैठ गए।

 🥃  

अब लत और जोर मारने लगी, तो दूसरा बोला कि

*"भाई, पीने की कसम खाई हैं, बोतल खोलने की तो नहीं.."*


आखिर बोतल 🍾 खोली गई,

ग्लास, 🥂 नमकीन..🍟

पत्नी 👩🏼‍🦰 खुद दे गयी, 

 🥃   🥃   🥃   🥃  


लेकिन कसम के कारण आगे नही बढ़े,


फिर एक बोला कि 

*"भाई पीने की कसम खाई हैं, जाम बनाने की तो नहीं।"*


लॉजिक जंच गई शराब डाली गई।


*दो पटियाला पैग* बनाये गए।


अब दोनों मायूस, कसम के हाथों मजबूर।

😬😫


जामों को देखते हुए बैठे रहे।


समय ⌛ बीतता रहा बीतता रहा।


नशा बड़े बड़ों को गुलाम बना लेता हैं।


*पर ये दोनों पक्के थे, कसम ली तो तोड़ नहीं सकते थे..!*


चाहे कुछ हो जाए।


फिर पता नही क्या हुआ कि...


दोनों एक साथ बोले कि,


?


?


*"भाई, पीने की कसम खाई है,*


*पिलाने की तो नहीं...।"*

🤪


ये कहकर दोनों ने जाम उठाएं और एक दूसरे को पिला दिए।

 🥃   🥃  

*अब आप ही बताईए,  कसम टूटी या नहीं?*.... 😜😜😜

टिप्पणियाँ

इस ब्लॉग से लोकप्रिय पोस्ट

दो सौ पौराणिक कथाएं

बिहारी के दोहे और अर्थ

कौन है हिन्दी की पहली कहानी ?