शुक्रवार, 12 जून 2020

प्रेरक बातें




बल्तासार ग्रासियन के अनमोल विचार


| Baltasar Gracián Quotes In Hindi

 बल्तासार ग्रासियन एक स्पेनिश जज और बरोक गद्य लेखक व दार्शनिक थे। इनका जन्म कलतायुड के पास ही स्थित बेलमॉन्टे शहर में हुआ था। इनके लेखन को शोपनहॉवर और नीत्चा द्वारा खूब सराहा गया था। जन्म : 8 जनवरी 1601 निधन: 6 दिसंबर 1658 ।

Baltasar Gracián Quotes In Hindi

बल्तासार ग्रासियन के अनमोल विचार | Baltasar Gracián Quotes In Hindi

Quote 1. खुद को कभी किसी के सुपुर्द नहीं करना चाहिए क्योंकि इसका मतलब गुलामी होता है। आभार और प्रतिबद्धताओं से खुद को दूर रखने में ही भलाई है। इस तरह आप पर किसी का अधिकार नहीं रह जाता है।


Quote 2. किसी की सेवा करना चाहते हैं तो उसे खुद ही की मदद करना सिखाएं।

Quote 3. लंबे इंतजार के बाद ही मिलता है, अवसर।

Quote 4. जब आप किसी को परामर्श देते हैं तो उसे वो याद दिलाएं जो वो भूल गया था।


Quote 5. गुस्से में कोई काम न करें क्योंकि तब आप हर काम गलत ही करेंगे।

Quote 6. बहाने बनाना सीखें। समझदार लोग इसी तरह कठिनाइयों से निकलते हैं।

Quote 7. दोस्ती जीवन में सुख बढ़ाती है और दुख घटा देती है।

Quote 8. जीवन में एक सच्चा दोस्त मिलना आपकी पूंजी है और उसका बने रहना आशीर्वाद है।

Quote 9. किसी भी बहस में गलत का पक्ष केवल इसलिए न लें कि आपके विरोधी ने सही का पक्ष ले लिया है।

Quote 10. इस तरह व्यवहार करें कि कोई आपको लगातार देख रहा है।

Quote 11. किसी भी कार्य को करते हुए उसमें चुटकीभर साहस मिला लें।

Quote 12. एक झूठ ईमानदारी की प्रतिष्ठा को नष्ट कर देता है।

Quote 13. अपने विचारों को पूरी तरह स्पष्ट कभी न करें। ज्यादातर लोग जो नहीं समझते हैं उसे मान लेते हैं और जो समझते हैं, उसके बारे में कम सोचते हैं।

Quote 14. साहस के बिना समझदारी किसी काम की नहीं है।

Quote 15. कैसे जीना चाहिए, यह पता होना ही सच्चा ज्ञान है।

Quote 16. जो कल के ऊपर कोई काम नहीं छोड़ता उसे बहुत कुछ कर लिया है।

Quote 17. झूठ मत बोलिए लेकिन पूरा सच भी मत बताइए।

Quote 18. जल्दबाजी तो मूर्खों की कमजोरी है।

Quote 19. झूठा व्यक्ति दोगुना झेलता है। वो न तो विश्वास करता है, न ही विश्वास जीतता है।

Quote 20. सच सुनाई कम, दिखाई ज्यादा देता

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

श्याम बेनेगल और रीति कालीन कवि भूषण

 श्याम बेनेगल ने अपने मशहूर सीरियल “भारत एक खोज” में जिस अकेली हिंदी कविता का स्थान दिया है वह है रीतिकाल के कवि भूषण की। कहा जाता है कि भूष...