रविवार, 20 जून 2021

शक्तिशाली कौन?

 🦆प्रेरणादायक कहानी🦆/ शक्तिशाली कौन?

●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●●


बूढ़ा पिता अपने IAS बेटे के चेंबर में  जाकर उसके कंधे पर हाथ रख कर खड़ा हो गया !


और प्यार से अपने पुत्र से पूछा...


"इस दुनिया का सबसे शक्तिशाली इंसान कौन है"?


पुत्र ने पिता को बड़े प्यार से हंसते हुए कहा "मेरे अलावा कौन हो सकता है पिताजी "!


पिता को इस जवाब की  आशा नहीं थी, उसे विश्वास था कि उसका बेटा गर्व से कहेगा पिताजी इस दुनिया के सब से शक्तिशाली इंसान आप हैैं, जिन्होंने मुझे इतना योग्य बनाया !


उनकी आँखे छलछला आई !

वो चेंबर के गेट को खोल कर बाहर निकलने लगे !


उन्होंने एक बार पीछे मुड़ कर पुनः बेटे से पूछा एक बार फिर बताओ इस दुनिया का सब से शक्तिशाली इंसान कौन है ???


       पुत्र ने  इस बार कहा...

         "पिताजी आप हैैं,

       इस दुनिया के सब से

        शक्तिशाली इंसान "!


पिता सुनकर आश्चर्यचकित हो गए उन्होंने कहा "अभी तो तुम अपने आप को इस दुनिया का सब से शक्तिशाली इंसान बता रहे थे अब तुम मुझे बता रहे हो " ???


पुत्र ने हंसते हुए उन्हें अपने सामने बिठाते  हुए कहा ..


"पिताजी उस समय आप का हाथ मेरे कंधे पर था, जिस पुत्र के कंधे पर या सिर पर पिता का हाथ हो वो पुत्र तो दुनिया का सबसे शक्तिशाली इंसान ही होगा ना,,,,,


बोलिए पिताजी"  !


पिता की आँखे भर आई उन्होंने अपने पुत्र को कस कर के अपने गले लगा लिया !


    "किसी ने क्या खूब चन्द पंक्तिया लिखी हैं"

          जो पिता के पैरों को छूता है वो कभी गरीब नहीं होता।


जो मां के पैरों को छूता है  वो कभी बदनसीब नही होता।


जो भाई के पैराें को छुता हें वो कभी गमगीन नही होता।


जो बहन के पैरों को छूता है वो कभी चरित्रहीन नहीं होता।


जो गुरू के पैरों को छूता है

 उस जेसा कोई खुशनसीब नहीं होता.......


💞अच्छा दिखने के लिये मत जिओ 

          बल्कि अच्छा बनने के लिए जिओ💞

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

श्याम बेनेगल और रीति कालीन कवि भूषण

 श्याम बेनेगल ने अपने मशहूर सीरियल “भारत एक खोज” में जिस अकेली हिंदी कविता का स्थान दिया है वह है रीतिकाल के कवि भूषण की। कहा जाता है कि भूष...