शनिवार, 1 जनवरी 2022

वर्षारम्भ की मनहारी बधाई,*👏

वर्षारम्भ की मनहारी बधाई   / शैलेन्द्र किशोर जारूहार

 

*नये वर्ष के नये दिन पर पहली बात तो यह कहना चाहता हूँ कि दिन तो रोज ही नया होता है, लेकिन रोज नये दिन को न देख पाने के कारण हम वर्ष में कभी-कभी नये को देखने की कोशिश करते हैं*❗

*आज से नूतन वर्षारम्भ 2022हो चुका है❗नया वर्ष अपने साथ बहुत कुछ नया लेकर आया है- नई उमंगें, नई उम्मीदें, नये सपने, नई आशाएं, नई सम्भावनायें और इन सबको पूरा करने के लिये नये दिन भी❗इस नये वर्ष में हम सबने कई उम्मीदें बांध रखी होंगी❗जिसमें प्रथम प्राथमिकता कोरोना से मुक्ति पाने की है❗निश्चित रूप से अनवरत दो वर्षों से कोरोना ने हमें आर्थिक, मानसिक और शारीरिक रूप से अति क्षति किया है❗

इन्हें पूरा करने के लिये अतीत की अपनी बाधाओं को लांघ कर नये साल का स्वागत कीजिए❗ मानस पटल से नकारात्मक विचारों को निकालें एवं अपने इर्द-गिर्द  के ऐसे लोगों को देखें, जो आपको अपने सपने साकार करने में सहायक बन प्रेरित करते हैं❗*

*इन्हीं सम्भावनाओं एवं आशाओं के साथ नूतन वर्ष 2022 की हृदयहारी बधाई 🎂🌷🌹💐🍧❗*

शैलेन्द्र किशोर जारूहार

संभाल - काॅपी पेस्ट

कोई टिप्पणी नहीं:

एक टिप्पणी भेजें

रवि अरोड़ा की नजर से....

 आपने कभी देखी / रवि अरोड़ा किसी फिल्म का तो याद नहीं मगर जहां तक साक्षात दर्शन की बात है तो मुझे अभी तक लैंबोर्गिनी कार के दीदार नहीं हुए ।...